दो अलग अलग लिक्विड फंड के प्रदर्शन में बहुत अधिक अंतर नहीं होता है. उस लिक्विड फंड का चुनाव करें, जिसका asset under management (a.m.u.) अधिक हो और फंड को भुनाने की सुविधा फोन व इंटरनेट पर उपलब्‍ध हो.

BY HITESH KUSHWAHA

13/01/2022, 20.06 PM


 

kaise chune best mutual fund



kaise chune best mutual fund: निवेश के लिहाज से बेहतरीन म्‍यूचुअल फंड (mutual fund) योजनाओं का चयन एक महत्‍वपूर्ण कदम है. यह केवल महत्‍वपूर्ण नहीं, बल्कि खास भी है. यदि आपने लंबी अवधि के बड़े वित्‍तीय लक्ष्‍य (financial goals) बनाए हैं, केवल तभी म्‍यूचुअल फंड का चुनाव (mutual fund selection) आपके लिए मायने रखता है. अगर आप कम समय के लिए निवेश कर रह हैं, मान लीजिये आप एक लिक्विड फंड (liquid fund) में निवेश (invest) कर रहे हैं तो यह मायने नहीं रखता हैं कि आप किस  लिक्विड फंड में निवेश कर रहे हैं. दो अलग अलग लिक्विड फंड के प्रदर्शन में बहुत अधिक अंतर नहीं होता है. उस लिक्विड फंड का चुनाव करें, जिसका asset under management (a.m.u.) अधिक हो और फंड को भुनाने की सुविधा फोन व इंटरनेट पर उपलब्‍ध हो. हालांकि अगर आप लंबी अवधि के लिए निवेश करने की सोच रखते हैं तो इसका अर्थ यह है कि आप 8 से 10 साल तक की समया‍वधि के लिए निवेश करेंगे. इस स्थिति में  म्‍यूचुअल फंड में निवेश करना चाहिये.

म्‍यूचुअल फंड में निवेश से पहले लक्ष्‍य निर्धारित करे-Set goals before investing in mutual funds- kaise chune best mutual fund

निवेश के लिए सबसे पहला महत्‍वपूर्ण कदम है कि निवेश का लक्ष्‍य का निर्धारण. बिना इसके अच्‍छे फंड का चुनाव करना बिल्‍कुल निरर्थक है. आपको अपने निवेश करने के कारणों का भी पता होना चाहिये. जैस आप कितनी अवधि के लिए निवेश कर रहे हैं और किस स्थिति में आप अपने निवेश के विकल्‍पों में बदलाव करेंगे. आपका लक्ष्‍य स्‍पष्‍ट होगा तो आप सहीं विकल्‍पों में पूंजी निवेश करेंगे. इसी आधार पर यह निर्णय हो सकेगा कि कितनी राशि इक्विटि फंड (equity fund) में लगाई जाए.

म्‍यूचुअल फंड में निवेश से पहले होमवर्क करना जरूरी- It is important to do homework before investing in mutual funds

आप निवेश करने से पहले होमवर्क कर लें. लार्ज कैप वाले अच्‍छे डायवर्सिफाइड फंड (diversified fund) खरीदें. आप अपने पोर्टफोलियो के मुख्‍य फंड के तौर पर अपॉरच्‍यूनि‍टी फंडों (Opportunity Funds), इंटरनेशनल फंडों (international funds) और कंट्री फंडों (country funds) की खरीददारी न करें. भारत में सभी फंड अब नो लोड फंड (no load fund) हैं. इसका अर्थ यह हुआ कि इन्‍हें खरीदने पर शुल्‍क नहीं लगता. यह अच्‍छा है और इसका मतलब यह है कि आपके पूरे पैसे का निवेश कर दिया जाता है. लार्ज कैप इक्विटी फंड (Large Cap Equity Fund) के चुनाव के लिए किसी को शुल्‍क देना कहीं से भी उचित नहीं लगता है. इसके लिए आप स्‍वयं प्रयास कर सकते हैं.

ऐसेट मैनेजमेंट शुल्‍क पर रखें पैनी नजर-Keep a close eye on asset management charges

जैसे ही किसी फंड की अच्‍छी शुरूआत होती है, वैसे ही उसे भारी संख्‍या में निवेशकों को अपनी तरफ आकर्षित करना चाहिये. जैसे जैसे इसकी पूंजी में वृद्धि‍ हो वैसे-वैसे इसके ऐसेट मैनेजमेंट शुल्‍कों में कमी की जाना चाहिये. बेहतर प्रबंधित उन फंडों पर नजर डालें, जिनके शुल्‍क 1.9 प्रतिशत सालाना से कम है. बाजार में इस तरह के कई फंड उपलब्‍ध हैं.

पोर्टफोलियो टर्नओवर रेशियो महत्‍वपूर्ण-Portfolio Turnover Ratio Important

पोर्टफोलियो टर्नओवर रेशियो (Portfolio Turnover Ratio) पर भी खास नजर रखनी चाहिये. जैसे ही यह अनुपात (ratio) अधिक होता है, वैसे ही आपके फंड की कुल लागत में बढ़ोतरी होती जाती है, जो लागत निवेशकों को दिखाई नहीं देती है, वह है फंड स्‍कीम द्वारा दिया जाने वाला ब्रोकरेज. यह पोर्टफोलियो के टर्न ओवर पर निर्भर होता है, इसलिए कम टर्न ओवर वाले फंड की कम लागत आती है.

ए.एम.सी. टीम की भी खास भूमिका-AMC special role of team

किसी भी ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी (asset management company) की टीम की भी महत्‍वपूर्ण भूमिका होती है. एक निवेशक के तौर पर आपको उस अनुभवी टीम (experienced team) की तलाश करनी चाहिये, जहां प्रबंधक कुछ कारोबारी चक्रों (business cycles) से गुजरे हो. जिन प्रबंधकों ने मंदी के बाजार (bearish market) न देखे हो, वे अदूरदर्शी हो सकते हैं, लेकिन वे प्रबंधक बहुत निराशावादी हो सकते हैं, जिन्‍होंने  लंबे समय तक मंदी का दौर देखा हो. इसलिए आप एक ऐसी टीम की तलाश करें, जिसमें दोनों का मिश्रण हो. 

नाम के अनुरूप सच-true to name-kaise chune best mutual fund

फंड की असली सच्‍चाई उसके नाम या उददेश्‍य के अनुरूप होनी चाहिये. अगर किसी फंड के बारे में कहा जाता है कि वह लार्ज कैप फंड है, तो इसमें केवल इसलिए मिड कैप या स्‍मॉल कैप की खरीददारी नहीं होना चाहिये कि लार्ज कैप अभी पसंदीदा नहीं है. लार्ज कैप फंड में निवेश का फैसला आपका है और आपके फंड मैनेजर को इस सच का आदर करना चाहिये.

सोच की समानता-equality of thought-kaise chune best mutual fund

कुछ फंड हाउस दूसरों की तुलना में शांत और सयंमित होते हैं. यह आपको देखना है कि ए.एम.सी. की सोच आपसे मिलती-जुलती है. उदाहरण के लिए टेंपल्‍टन का कहना है कि फ्रैंकलिन इंडिया ब्‍लू चिप एक ग्रोथ ओरिएंटेड लार्ज कैप फंड है, जबकि  टेंपल्‍टन इंडिया ग्रोथ फंड एक वैल्‍यू ओरिएंटेड फंड है, यह आपको देखना है कि आपकी सोच आपसे मेल खाती है.

कौन कर रहा है फंड का प्रबंधन-Who is managing the fund

किसी फंड का प्रबंधन कला भी है और विज्ञान भी. किसी स्‍कीम का फंड मैनेजर निश्चित तौर पर अपनी छाप छोड़ता है. हालांकि कुछ फंड उन स्थितियों के लिए टीम और व्‍यवस्‍था बनाने में सक्षम रहते हैं कि किसी फंड मैनेजर के जाने के बाद हालात को संभाला जा सके. यह व्‍यवस्‍था आपके दिमाग को सुकून देती है.

बेहतर इंडेक्‍स फंड का चुनाव-Choosing the best index fund-kaise chune best mutual fund

एक बेहतर तरीके से प्रबंधित इंडेक्‍स फंड को काफी लंबी अवधि के दायरे में पीछे छोड़ना मुश्किल है. वर्तमान में सभी फंड हाउस (fund house) दिखाते है कि उसकी स्‍कीम का प्रदर्शन इंडेक्‍स से बेहतर है, लेकिन इस तर्क से सावधान रहें. ये फंड हाउस प्रदर्शन दिखाते समय शुल्‍क को सम्मिलित नहीं करते. ऐसे में आप शुल्‍क को सम्मिलित करके गणना करें, तब आपको पता चलेगा कि बहुत सारी योजनाएं इंडेक्‍स से खराब प्रदर्शन कर रही है. ऐसे में अगर आप अधिक रोमांच नहीं चाहते है, तो ऐसे इंडेक्‍स फंड का चुनाव करें, जिसका फंड शुल्‍क 1 प्रतिशत सालाना से कम हो.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *